मां-बाप और दो बेटों का मर्डर कर सुसाइड किया:पिता को कुल्हाड़ी से मारा, बाकी परिजनों को नींद की गोलियां दे टैंक में फेंका

0
112

ब्यूरो न्यूज़ जोधपुर।

जोधपुर में युवक ने अपना पूरा परिवार ही खत्म कर दिया। मां-बाप और दो बेटों की हत्या के बाद उसने भी सुसाइड कर लिया। यह दिल दहला देने वाली वारदात लोहावट के पीलवां गांव की है। गांव में एक साथ 5 लाशें मिलने से सनसनी फैल गई।

 

 

सनकी हत्यारे ने गुरुवार शाम पहले खेत में काम कर रहे पिता को कुल्हाड़ी से मौत के घाट उतारा फिर घर पहुंचकर मां और अपने दो बेटों को खाने में नींद की गोलियां दे दीं। जब वे तीनों बेहोश गए तो एक एक करके सभी को पानी की टांके में फेंक दिया। इसके बाद वह कुछ दूर रह रहे अपने मामा के घर पहुंचा और वहां टांके में कूद गया।

 

लोहावट थाना के सीआई बद्री प्रसाद ने बताया कि ​​​​किसान शंकर लाल (38) ने पहले अपने पिता सोनाराम (65) पर कुल्हाड़ी से हमला कर घायल कर दिया और मौके से भाग गया। सोनाराम को घायल देख कुछ लोगों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया, जहां देर रात इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

 

घर पहुंचकर शंकर लाल ने बाकी परिजनों के खाने में नींद की गोलियां मिला दीं। इससे सभी बेहोश हो गए तो सबसे पहले अपनी मां चंपा(55) को घर में बने पानी के टांके में फेंक दिया।

 

उसका बेटा लक्ष्मण(14) भी वहीं सो रहा था, उसे भी पानी में फेंक दिया। शंकर का छोटा बेटा दिनेश(8) अपनी मां के पास सो रहा था, सुबह करीब 5 बजे उसे भी टांके में फेंक दिया। बताया जा रहा है कि वह अपने परिजनों को दो दिन से नींद की गोलियां दे रहा था।

 

पूरे परिवार को खत्म करने की सूचना मिली तो बड़ी संख्या में लोग घटनास्थल पर पहुंच गए।

शुक्रवार सुबह लोगों ने देखा कि पानी के टांके में शव तैर रहे हैं। उन्होंने पुलिस को घटना की सूचना दी। CI ने बताया कि शंकर लाल को नशे की लत थी, वह अफीम का नशा करता था। उसका अपनी पत्नी मैना से अनबन थी। पुलिस टीम ने जांच-पड़ताल शुरू कर दी है। एफएसएल टीम ने भी मौके से सबूत जुटाए हैं।

DHIRENDRA TANWAR

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here