मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बोले- प्राइवेट अस्पतालों ने मचा रखी लूट, प्रदेश में बड़ी योजनाएं फिर भी मरीज परेशान क्या प्रशासन कर पाएगा कार्रवाई

0
234

 बड़ी योजना का नहीं मिल पा रहा है लाभ मरीज परेशान क्या इसको रोक पाएगी सरकार 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज मुख्यमंत्री कार्यालय में राज्य के क्रियाशील एवं नवनिर्मित मेडिकल कॉलेजों के प्राचार्यों के साथ मीटिंग की सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि राइट टू हेल्थ बिल लेकर आए, कुछ प्राइवेट अस्पताल वालों ने इसका विरोध किया। सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान में सरकार इतनी बड़ी-बड़ी योजनाएं लेकर आती है। मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना के तहत प्रदेश में दवा जांच उपचार बिल्कुल मुफ्त है। इतनी योजनाएं होने के बावजूद मरीज द्वारा दवा बाहर से लेने की बात कई बार सामने आई हैं ऐसा होना अच्छा नही हैं।

मरीजों से फीडबैक लेंगे सीएम गहलोत

उन्होंने कहा “मैं अब जिलों के दौरे पर जाऊंगा तो मरीजों से फीडबैक लूंगा”। सीएम गहलोत ने आईएएस अधिकारी से कहा कि पहले वाली प्रक्रिया से अब उलट चले पीडब्ल्यूडी विभाग अस्पतालों का सर्वे करवाकर काम कराएं। अस्पतालों के प्रस्ताव का इंतजार नहीं करना है। मरीज इलाज के लिए अस्पताल पहुंचता है अस्पतालों में साफ सफाई ना हो, गंदगी हो तो क्या बीतती होगी मरीजों पर । प्रदेश में इतनी बड़ी-बड़ी योजनाएं हैं लेकिन फिर भी मरीजों को परेशान होना पड़ रहा है।

सीएम गहलोत बोले- प्राइवेट अस्पतालों ने लूट मचा रखी है

सीएम गहलोत बोले कि प्रदेश में राइट टू हेल्थ बिल लेकर आए कुछ प्राइवेट अस्पताल वालों ने विरोध किया। उसके बाद यह विधानसभा में रुक गया यह लोग इतना पैसा कमाते हैं। इन लोगों को कुछ तो आगे आना चाहिए। प्राइवेट अस्पतालों को अब प्रदेश में लूट की छूट नहीं दी जा सकती। उन्होंने कहा कि प्राइवेट अस्पतालों ने लूट मचा रखी है। इन लोगों ने पीजी में एक करोड़ दो करोड़ पता नहीं कितने पैसे लगाते हैं निजी मेडिकल कॉलेज खुल रही है रुपया कमा रहे हैं।

मानवीय दृष्टिकोण रखना जरूरी। 

अगर आप जल्दी गिर जाते हैं और रोमांस का आनंद नहीं ले पाते हैं, तो अभी अपनाएं ये बेहतरीन उपचार

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि निजी अस्पतालों को मानवीय दृष्टिकोण रखना चाहिए। मेडिकल प्राचार्य पर चुटकी लेते हुए कहा ि डॉक्टर साहब कुछ बोल नहीं रहे हैं। सीएम ने मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य को अपने आवास पर लंच दिया और कहा कि कई निजी अस्पतालों में मरीजों से खुली लूट होती है इन अस्पतालों के डॉक्टरों से बात करनी चाहिए। महंगाई के इस दौर में मानवीय दृष्टिकोण रखना जरूरी है। ऐसे अस्पतालों को चिन्हित कर इसकी जांच करनी चाहिए।

सामने आए निजी अस्पतालों की लूट के कई मामले

राजस्थान में के बड़े अस्पताल ने मचा रखी है लूट जोधपुर जयपुर उदयपुर सिरोही पाली बड़े जिलों में चल रही है निजी अस्पतालों में लूट का कारोबार 

 

SL News Rajasthan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here